प्यार के निशान कहीं जाने वाली भारत की कुछ ऐतिहासिक इमारतें

By | May 17, 2021

प्यार के निशान कहीं जाने वाली भारत की कुछ ऐतिहासिक इमारतें – नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सभी?  उम्मीद है कि आप सभी स्वस्थ होंगे। मै एक बार फिर से आप सभी का स्वागत करता हूं हमारे इस बिल्कुल नए आर्टिकल पर। दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय पर जानकारी देने जा रहे हैं। आज इस आर्टिकल में हम आपको भारत के कुछ प्रमुख इमारतों के बारे में बताएंगे जिन्हें प्यार की मिसाल के रूप में जाना जाता है। तो दोस्तों अगर आप भी इन इमारतों के बारे में जानना चाहते हैं और यहां के बारे में संपूर्ण जानकारी पाना चाहते हैं तो हमारा यह आर्टिकल आखिरी तक पूरा पढ़िए।

अपनी कला संस्कृति एवं साहित्य के कारण जाना जाने वाला भारत अपने अंदर अनेक इतिहास संजोए हुए हैं। यदि आप भारत के नागरिक हैं तो आपको पता होगा हमारे देश में अनेक ऐसी इमारतें हैं जो एक अलग ही इतिहास से बयां करती हैं। यदि आप भारत के नागरिक नहीं है और भारत में घूमना चाहते हैं तो मैं आपको सलाह दूंगा कि अपनी भारत यात्रा के दौरान एक बार आप इन इमारतों पर जरूर आएं। आपको एक अलग ही अनुभव होगा । भारत में अनेक प्रकार की इमारतें हैं।

प्यार के निशान कहीं जाने वाली भारत की कुछ ऐतिहासिक इमारतें

इनमें से कुछ धार्मिक इमारते हैं, कुछ ऐतिहासिक इमारतें हैं, कुछ अपने कला एवं साहित्य के कारण जानी जाती हैं। पर हमारे देश में कुछ इमारतें ऐसी भी है जो प्रेम की निशानी कही जाती है और वर्ष में हर एक दिन देश दुनिया के करोड़ों पर्यटक इन इमारतों पर सैर करने के लिए आते हैं और इनका इतिहास जानकर दंग हो जाते हैं। तो अगर आप भी इन इमारतों के बारे में जानना चाहते हैं तो आज आप बिल्कुल सही आर्टिकल पर आएं हैं। क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको भारत के कुछ सबसे प्रसिद्ध इमारतों के बारे में बताएंगे जिन्हें लोग प्यार की मिसाल के नाम से भी जानते हैं।

ताजमहल

जब भी विदेशों में भारत का नाम लिया जाता है तो सभी के मस्तिष्क में ताजमहल की छवि जरूर बन जाती है। ताजमहल भारत की आन बान और शान है। ताजमहल भारत की एक ऐतिहासिक धरोहर है। यह विश्व के सात अजूबों में से एक है। ताजमहल भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के आगरा जिले में स्थित एक इमारत है। यह इमारत पूरी तरह से सफेद संगमरमर से बनी हुई है। यमुना नदी के तट पर बनी हुई यह इमारत प्रेम की निशानी कही जाती है। इस इमारत के पीछे का इतिहास यह है कि ताजमहल को वर्ष 1631 से 1648 के बीच में मुगल सम्राट शाहजहां ने बनवाया था।

यह इमारत शाहजहां ने अपनी पत्नी मुमताज महल की याद में बनवाया । कहानी यह भी है कि मुमताज महल का प्रसव के दौरान मृत्यु हो गई थी जिससे शाहजहां आहत हुए थे और शाहजहां ने मुमताज की याद में कभी न मिटने वाली निशानी ताजमहल का निर्माण कराया। ताजमहल में प्रतिदिन लाखों पर्यटक घूमने के लिए आते हैं। अगर आप भी यहां आना चाहें तो आ सकते हैं आपको बहुत ही सुखद अनुभव मिलेगा।

मस्तानी महल शनिवारवाड़ा किला, पुणे, महाराष्ट्र

आप सभी ने बाजीराव मस्तानी का नाम जरूर सुना होगा। बाजीराव मस्तानी अपने प्रेम के कारण मशहूर है। बाजीराव मस्तानी से जुड़ा हुआ मस्तानी महल भारत के महाराष्ट्र के पुणे में स्थित एक लोकप्रिय इमारत है। इस इमारत को वर्ष 1730 में बाजीराव पेशवा के द्वारा बनाया गया था। यह इमारत अनेक ऐतिहासिक घटनाओं को बयां करती हैं।

इसी इमारत में बाजीराव प्रथम तथा उनके दूसरी पत्नी मस्तानी रहती थी। जिनकी मृत्यु के पश्चात इसे एक पर्यटन स्थल के रूप में बदल दिया गया। यदि आप कभी इस महल में घूमने के लिए जाएंगे तो आप देखेंगे कि यहां जगह-जगह पर नोटिस लिखे हैं जिन पर इस किले के इतिहास के बारे में बताया गया है। यह भी एक प्रमुख पर्यटन स्थल है जहां पर लाखों सैलानी सैर करने के लिए आते हैं।

रूपमती मंडप, मांडू, मध्य प्रदेश

भारत में मध्य प्रदेश एक प्रमुख राज्य है। यह राज्य अपनी संस्कृति के कारण मशहूर है। मध्यप्रदेश में अनेक ऐसी इमारतें हैं जो मध्य प्रदेश का और भारत का प्रतिनिधित्व करती हैं। मध्य प्रदेश के मांडू जिले में स्थित रूपमती मंडप भी इन इमारतों में से एक है। आपको जानकर हैरानी होगी कि यह रूपमती मंडप 366 मीटर ऊंचाई पर बना है। यह रूपमती मंडप पूरी तरह से ऐतिहासिक वास्तु कला और वास्तुशिल्प से परिपूर्ण है।

रूपमती मंडप के ऊपर आधा गुंबद और मेहराब बना है। यदि आप इस गुंबद के ऊपर से देखें तो नर्मदा नदी साफ साफ नजर आते हैं। यह किला अपने प्रेम के कारण मशहूर है। इसके पीछे की कहानी यह है कि जिले का राजा राजबहादुर था और उनकी पत्नी रानी रूपमती थी। इन्हीं दोनों की प्रेम कहानी को जीवंत रखने के लिए एक नकली मंडप का निर्माण कराया गया। यदि कभी आप भारत में भ्रमण करने के लिए आए तो रूपमती मंडप जाना ना भूलें।

निष्कर्ष

दोस्तों आज के लिए बस इतना ही।  आज आपके लिए एक छोटी सी जानकारी थी। आज की यह जानकारी यहीं पर समाप्त होती है। आज इस आर्टिकल में हमने आपको भारत के कुछ प्रमुख ऐतिहासिक इमारतों के बारे में बताया। हमें उम्मीद है कि यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। मित्रो हम आपके लिए अनेक प्रकार की जानकारियां लेकर आते रहते हैं। अगर आप इसी प्रकार की अन्य जानकारियों पाना चाहते हैं तो हमारा आर्टिकल प्रतिदिन पढ़िए। अपना कीमती समय देने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। शुभ दिन