Some Interesting Facts Related to Tirupati Balaji Temple India

By | July 30, 2021

Tirupati Balaji Temple India – तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़े कुछ रोचक तथ्य – आज इस आर्टिकल में हम आपको एक बहुत महत्वपूर्ण टॉपिक पर जानकारी देने जा रहे हैं। आज इस आर्टिकल में हम आपको तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों के बारे में बताएंगे। आज हम आपको तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़े जितनी भी बातें बताएंगे हमें यकीन है वह आपको पहले किसी ने नहीं बताई होंगी। दोस्तों अगर आप भी तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़े यह हैरतअंगेज जानकारियां पाना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आखिरी तक पूरा पढ़िए। 

हमारा भारत देश अपनी धार्मिक रीति-रिवाजों एवं सनातन परंपरा के कारण विश्व भर में विख्यात है। भारत देश में अनेक ऐसे मंदिर हैं जो शायद आपको देवलोक की अनुभूति कराते हैं। इन्हीं में से एक बहुत प्रसिद्ध तथा सिद्ध मंदिर तिरुपति बालाजी मंदिर है। शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति है जो भारत का रहने वाला है और उसने तिरुपति बालाजी मंदिर के बारे में ना सुना हो। तिरुपति बालाजी मंदिर को भगवान श्री हनुमान के मुख्य मंदिरों में से एक माना जाता है।

तिरुपति बालाजी मंदिर के अंदर करोड़ों श्रद्धालु वर्ष भर में आते हैं। न सिर्फ भारत के बल्कि अमेरिका न्यूजीलैंड ऑस्ट्रेलिया जैसे अन्य कई देशों के लोग भी वर्ष में कई बार तिरुपति बालाजी मंदिर के दर्शन करने के लिए आते हैं। लोगों का ऐसा मानना है कि अगर आपने सच्चे मन से तिरुपति बालाजी मंदिर में कोई मनोकामना मांगी है तो वह मनोकामना कभी भी खाली नहीं जाती है। क्या अमीर क्या गरीब क्या आम और क्या खास हर कोई बालाजी मंदिर में खुद को नतमस्तक करता है।

तिरुपति बालाजी मंदिर कहां स्थित है?

बहुत बहुत लोगों को नहीं पता एक तिरुपति बालाजी मंदिर कहां पर स्थित है? अगर आपको भी नहीं पता तिरुपति बालाजी मंदिर कहां स्थित है? आपकी जानकारी के लिए बता दें तिरुपति बालाजी मंदिर आंध्र प्रदेश राज्य में स्थित है। आंध्र प्रदेश राज्य में एक तिरुपति नाम का क्षेत्र है जहां से लगभग 10 किलोमीटर दूर तिरुपति बालाजी का भव्य एवं विशाल मंदिर स्थित है।

तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

तिरुपति बालाजी मंदिर ऐसे ही खास नहीं बना है तिरुपति बालाजी मंदिर के अंदर ऐसी अनेक देवी एवं चमत्कारिक सिद्धियां हैं जो तिरुपति बालाजी मंदिर को अन्य मंदिरों की अपेक्षा खास बनाती हैं। तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़े कुछ रोचक तथ्य के बारे में नीचे बताया गया है।

तिरुपति बालाजी मंदिर के अंदर भगवान विष्णु की मुख्य प्रतिमा है। यह प्रतिमा दुनिया की इकलौती ऐसी प्रतिमा है जिसमें भगवान विष्णु माता लक्ष्मी की तरह मुद्रा में है और आशीर्वाद दे रहे हैं। प्रतिदिन जब भगवान विष्णु का श्रृंगार किया जाता है तो उन के निचले हिस्से में धोती तथा ऊपरी हिस्से में साड़ी पहनाई जाती है।

तिरुपति बालाजी मंदिर की सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि मंदिर के अंदर एक गर्भ ग्रह है। इस गर्भ ग्रह में ना जाने कितने वर्षों से एक छोटा सा दीपक अपने आप जल रहा है। कई वैज्ञानिकों ने रिसर्च किया लेकिन उन्हें आज तक यह पता नहीं चल पाया कि यह दिया अपने आप कैसे जलता है।

तिरुपति बालाजी के अंदर भगवान विष्णु की प्रतिमा स्थापित है। लोगों का ऐसा मानना है कि भगवान विष्णु की प्रतिमा के अंदर स्वयं माता लक्ष्मी की प्रतिमा विराजमान रहती है। प्रत्येक गुरुवार को भगवान विष्णु का चंदन से लेप किया जाता है। लेप bकरने के तुरंत बाद प्रतिमा के ऊपर माता लक्ष्मी की आकृति अपने आप उभर आती है।

तिरुपति भगवान बालाजी की आरती करने के लिए एक विशेष प्रकार का कपूर इस्तेमाल किया जाता है। यदि वह कपूर किसी साधारण पत्थर के ऊपर रखकर जला दिया जाए तो पत्थर तुरंत चटक जाएगा लेकिन प्रतिमा पर कुछ नहीं होता।

तिरुपति भगवान बालाजी के जब आप कान पर ध्यान से सुनेंगे तो आपको वहां पर समुद्र घोष सुनाई देगा। तिरुपति बालाजी की प्रति घंटे सफाई की जाती है इसके बाद भी वह हमेशा गीला बना रहता है।

ऐसी मान्यता है कि लगभग वर्ष 1800 में एक राजा ने कई लोगो को मारकर मन्दिर की दीवार पर लटका दिया था। इस घटना के बाद लगभग लगभग 12 साल के लिए मन्दिर को बन्द कर दिया गया था।

जो भी प्रसाद या वस्तु भगवान बालाजी को चढ़ाई जाती है वह अपने घर नहीं लेकर जाए जाती है। गर्भ ग्रह के अंदर आप जो भी वस्तु अर्पित करेगे उसे गर्भ गृह के पीछे बने जलकुंड में फेका जाता है।

तिरुपति बालाजी मंदिर में एक विशाल धर्मशाला भी बना है। इस धर्मशाला में लगभग ₹50 प्रतिदिन के हिसाब से किराया लगता है। धर्मशाला की क्षमता 45000 लोगों की है।

वर्तमान समय में तिरुपति बालाजी मंदिर के अंदर अलग-अलग बैंक में जमा कैश लगभग 12000 करोड रुपए हैं। मंदिर में 9000 किलो सोना तथा 550 किलो अन्य सोने के आभूषण भी है।

जब आप तिरुपति बालाजी मंदिर से आगे लगभग 23 किलोमीटर दूर जाएंगे वहां पर आपको एक विचित्र गांव देखने को मिलेगा। इस गांव में जितने भी महिलाएं हैं उनमें से कोई भी महिला ब्लाउज नहीं पहनती है। इसी कारण इस गांव में किसी भी बाहरी व्यक्ति का प्रवेश वर्जित रहता है। भगवान तिरुपति बालाजी को जो भी श्रृंगार सामग्री एवं फूल चढ़ाए जाते हैं वह सब इसी गांव से आते हैं। 

5 Places in India Where You Can Overcome Stress and Fatigue By Roaming

 निष्कर्ष

यह आज आपके लिए एक छोटी सी जानकारी थी। आज इस आर्टिकल में हमने आपको तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़ी जानकारी दी। हमने आपको बताया तिरुपति बालाजी मंदिर कहां स्थित है तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़े रोचक तथ्य कौन-कौन से हैं? आशा करता हूं यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी है इसे अपने दोस्तों के पास शेयर करें। आर्टिकल को आखिरी तक पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।